टी.वी. अधिक देखने से बच्चों में मिर्गी-Epilepsy in children by watching more TV

0
12

अमृतसर मेडिकल कॉलेज के स्नायु तंत्र विभाग के अध्यक्ष डॉ अशोक उप्पल ने अमृतसर में हुए ‘अखिल भारतीय सम्मेलन’ में कहा कि “पश्चिमी देशों में टेलीविजन अधिक देखने के कारण बच्चों में मिर्गी का रोग बहुत बढ़ चुका है

और भारत में भी ऐसे कई समाचार सुनने मैं आ रहे हैं।

देश में अनेक चैनलों के प्रसारण के कारण बच्चे पहले की अपेक्षा अधिक समय तक टी.वी. देखते हैं। इसके दुष्परिणाम स्वरूप उनमें मिर्गी रोग से ग्रस्त होने की संभावना बढ़ रही है।”

सम्मेलन में यह मुद्दा विशेष रुप से चर्चित रहा।

सम्मेलन में भाग लेने वाले विभिन्न डॉक्टरों ने इस तथ्य की पुष्टि करते हुए कहा : ‘ टेलीविजन में प्रसारित कार्यक्रमों को बड़ों की अपेक्षा बच्चे ज्यादा ध्यान पूर्वक देखते हैं।

टेलीविजन पर तेजी से बदल रहे दृश्यों का उनके मस्तिष्क में स्थित हारमोंस पर बुरा प्रभाव पड़ता है, जिससे उनका दिमागी संतुलन बिगड़ जाता है।

फलत: मिर्गी, अशांति, तनाव जैसे रोगों का होना तथा क्रोधी चिड़चिड़ा स्वभाव बनना साधारण बात हो जाती है।

बच्चों के अतिरिक्त टी.वी. के अधिक शौकीन वयस्कों में भी इस प्रकार की समस्या पैदा हो सकती है।

विशेषकर देर रात तक टीवी देखने वालों को यह लोगों ने की अधिक संभावना होती है।

https://www.pmwebsolution.in/
https://www.hindiblogs.co.in/contact-us/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here